अमेरिकी

डॉव जोंस में भारी गिरावट.

खास बातें

  • शेयर बाजारों में गिरावट का दौर जारी है
  • भारत में भी शेयरों में गिरावट देखी जा रही है
  • अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थिति समान बनी हुई है.

न्यूयॉर्क:

दुनियाभर के शेयर बाजारों में उथल-पुथल मची हुई है, इससे अमेरिकी शेयर बाजार का प्रमुख सूचकांक डॉव जोंस भी अछूता नहीं है. डॉव जोंस में सोमवार के कारोबार में 1,175 अंकों की रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई. वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, डॉव जोंस इंडिस्ट्रयल एवरेज दोपहर के कारोबार में 1,600 अंकों तक टूट गया था और यह इसकी एकदिनी सबसे बड़ी गिरावट रही.

यह अगस्त 2011 के बाद सबसे बड़ी एकदिनी गिरावट रही. सीएनएन के मुताबिक, अमेरिकी शेयर बाजार में गिरावट का असर दुनियाभर में जारी है.

जापान का निक्केई सूचकांक मंगलवार सुबह चार फीसदी की गिरावट के साथ खुला जबकि आस्ट्रेलिया का एसएंडपी/एएसएक्स 200 सूचकांक में तीन फीसदी की गिरावट रही. डॉव जोंस में सोमवार दोपहर तीन बजे 800 अंकों की गिरावट दर्ज की गई लेकिन इसके कुछ ही मिनटों बाद यह 900 अंक, फिर 1,000 और उसके बाद 1,500 अंकों तक टूट गया. डॉव जोंस अपने निम्नतम 1,597 अंकों तक लुढ़क गया.

पढ़ें : बजट में बदले लॉन्ग-टर्म कैपिटल गेन टैक्स के नियम - अब बचत के लिए यही दो योजनाएं हैं सबसे मुफीद

नैस्डैक सूचकांक में दो फीसदी से अधिक की गिरावट रही लेकिन जल्द ही नैस्डैक हरे निशान पर लौट आया लेकिन इसके बाद जल्द ही इसमें गिरावट दर्ज की गई. नैस्डैक लगभग चार फीसदी की गिरावट के साथ बंद हुआ. एसएंडपी 500 सूचकांक में चार फीसदी से अधिक की गिरावट दर्ज की गई.

पढ़ें : 
नये कारोबारी ऑर्डरों में वृद्धि के चलते सेवा क्षेत्र की गतिविधियां तीन महीने में सबसे तेज

इस दौरान व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में कहा गया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का ध्यान दीर्घकालीन आर्थिक सुधारों पर केंद्रित है. बयान में आर्थिक विकास दर को मजबूत करने, बेरोजगारी कम करने और कामगारों का वेतन वेतन बढ़ाने की बात की गई.

यह भी पढ़ें

Contact us

Find us at the office

Trailor- Verkamp street no. 63, 81415 Zagreb, Croatia

Give us a ring

Dezha Manci
+38 695 645 231
Mon - Fri, 8:00-22:00

Reach out